अनमोल विचारों की पूँजी

जरुरी है अनमोल विचारों की पूँजी 

        दोस्तों मनुष्य अपनी ज़िंदगी में अपनी दैनिक आवश्यकताओं की पूर्ति के साथ-साथ भविष्य के लिए भी कुछ संग्रह करने की प्रवृत्ति रखता है. इसे हम बचत कह लें या इन्वेस्टमेंट, यह काम बुरा नहीं है. भविष्य देख कर नहीं आया. आज की बचत और कल के लिए व्यवस्थाओं की तैयारी रखना एक अच्छी आदत ही कही जायेगी. लेकिन बात जब अच्छे विचारों और अच्छे लोगों से मेलजोल और व्यवहार की आती है तो हम में से कितने लोग यह काम ईमानदारी से करते है?
,suvichar,anmol vachan,hindi quotes,anmol vichar,suvichar in hindi,अनमोल विचारों की पूँजी, अनमोल वचन, Anmol vicharon ka mahatvamotivational quotes in hindi,hindi thoughts,Hindi Quotes best
        जिस तरह से धन की व्यवस्था की जाती है उसी तरह अच्छे और प्रेरणादायक विचारों के लिए भी मनुष्य को प्रयत्नशील रहना चाहिए. यह वो पूँजी है जो आज और कल, अच्छे और बुरे दोनों समय काम आती है. अच्छे विचार हमेशा हमें अच्छा काम करने के लिए प्रोत्साहित करते है. प्रेरणादायी विचार हमें अच्छे और बुरे समय में  संबल देने का कार्य करते हैं.
यहाँ क्लिक करें पूरी पोस्ट पढ़ें>>>

          मनुष्य जो विचार करता है उसका उसके कार्यों और व्यक्तित्व पर बहुत गहरा प्रभाव पड़ता है. इसलिए अच्छे लोगों का सत्संग और सफल व्यक्तियों का मार्गदर्शन हमें निश्चित रूप से लाभ पहुंचाता है. 

       हमें सदा ही सुविचारों की पूँजी हमारे पास संग्रह कर के रखनी चाहिए. समाचार पत्र-पत्रिकायों और पुस्तकों में कई प्रकार के अनमोल वचन, सुविचार और प्रेरणादायी वचन प्रकाशित होते रहते हैं, इन्हें एक डायरी या कॉपी में लिख कर संग्रह किया जा सकता है और समय-समय पर इनको पढ़ा जा सकता है. हो गया न एक बड़ा काम आसानी से.

अनमोल विचारों की पूँजी, अनमोल वचन, Anmol vicharon ka mahatva   दोस्तों मेरी यह हिंदी पोस्ट आपको कैसी लगी? जरूर बताएं. आप अपनीं राय हिंदी या अंग्रेजी किसी भी भाषा में  भेज सकते हैं. मेरे ब्लॉग पर पधारने के लिए धन्यवाद.


अन्य हिंदी पोस्ट:
फूलों से सीखें जीने की कला 
सफलताएं, असफलताएं और जीवन के परिवर्तन

लेबल: , , ,